Judai Shayari | Shaam Judai Wali

Judai Shayari

Dil Se Nikli Hi Nahi Shaam Judai Wali,
Tum Toh Kahte The Bura Waqt Gujar Jata Hai.
दिल से निकली ही नहीं शाम जुदाई वाली,
तुम तो कहते थे बुरा वक़्त गुज़र जाता है।
Judai Shayari
Judai Shayari

Juda Huye Hain Bahut Se Log Ek Tum Bhi Sahi,
Ab Itni Si Baat Pe Kya Zindagi Hairaan Karein.
जुदा हुए हैं बहुत से लोग एक तुम भी सही,
अब इतनी सी बात पे क्या जिंदगी हैरान करें।
Bichhad Ke TujhSe Ajab Vahshaton Ne Ghera Hai,
Udaas Rehta Hai Yeh Dil Bhi Junglon Ki Tarah.
बिछड़ के तुझसे अजब वहशतों ने घेरा है,
उदास रहता है ये दिल भी जंगलों की तरह।
Juda Kisi Se Kisi Ka Gharaz Habeeb Na Ho,
Ye Daagh Woh Hai Ke Dushman Ko Bhi Naseeb Na Ho.
जुदा किसी से किसी का ग़रज़ हबीब न हो,
ये दाग वो है कि दुश्मन को भी नसीब न हो।
Bahut Bheed Hai Iss Mohabbat Ke Shahar Mein,
Ek Baar Jo Bichhada Woh Dobara Nahin Milta.
बहुत भीड़ है इस मोहब्बत के शहर में,
एक बार जो बिछड़ा वो दोबारा नहीं मिलता।


EmoticonEmoticon