Hurt Shayari | Jo Dil Pe Chot Khaye

Hurt Shayari

Suna Hai Usko Mohabbat Duaayein Deti Hai,
Jo Dil Pe Chot Toh Khaye Magar Gila Na Kare.
सुना है उस को मोहब्बत दुआएँ देती है,
जो दिल पे चोट तो खाए मगर गिला न करे।
Hurt Shayari | Jo Dil Pe Chot Khaye
Hurt Shayari | Jo Dil Pe Chot Khaye

Chup Hain Kisi Sabr Se Toh Patthar Na Samajh,
Dil Pe Asar Hua Hai Teri Baat Baat Ka.
चुप हैं किसी सब्र से तो पत्थर न समझ हमें,
दिल पे असर हुआ है तेरी बात-बात का।
Barbad Bastiyon Mein Tum Kis Ko Dhoondhte Ho,
Ujde Huye Logon Ke Thhikane Nahi Hote.
बरबाद बस्तियों में तुम किसको ढूंढ़ते हो,
उजड़े हुए लोगों के ठिकाने नहीं होते।
Zakhm Dene Ka Tareeka Koi Na Mila Unhein,
Mehfil Mein Chhedte Rahe Zikr-e-Wafa Baar-Baar.
ज़ख्म देने का तरीका कोई न मिला उन्हें,
महफ़िल में छेड़ते रहे ज़िक्र-ए-वफा बार-बार।
Iss Saleeke Se Mujhe Qatl Kiya Hai Uss Ne,
Duniya Ab Bhi Samjhti Hai Ke Zinda Hoon Main.
इस सलीके से मुझे क़त्ल किया है उसने,
दुनिया अब भी समझती है कि ज़िंदा हूँ मैं।
Harf-Harf Iss Kadar Tha Talkhiyon Se Bhara,
Aakhiri Khat Tera Deemak Se Bhi Khaya Na Gaya.
हर्फ़-हर्फ़ इस कदर था तल्खियों से भरा,
आखिरी ख़त तेरा दीमक से भी खाया ना गया।


EmoticonEmoticon